यादें (Yaadein)

कुछ करलो ताज़ा अपनी यादें,
चंद तस्वीरों पर डाल लो निगाहें,
यूँ तो जी सकते है फिर से बचपन अपना आसानी से,
देरी है बस निकालने की ज़रा सा वक़्त इस मशरूफ जिंदगी से!

-खुशी गोयल

————————————————

Kuch karlo taaza apni yaadein,
Chand tasweero par daal lo nigaahein,
Yun toh jee saktei hai phir se bachpan apna aasaani se,
Deri hai bas nikaalne ki zara sa waqt iss mashroof zindagi se!

-Khushi Goyal

Advertisements